GST क्या है in Hindi

GST क्या है in Hindi - लाभ, पंजीकरण प्रक्रिया, आवश्यक दस्तावेज


Goods and Service Tax (GST) 1 जुलाई 2017 को भारत सरकार द्वारा पेश की गई नई कर सुधार प्रणाली है। इसने भारत में GST नाम के तहत सभी प्रकार के अप्रत्यक्ष कर (indirect tax) को बदल दिया।

पिछली अप्रत्यक्ष कर प्रणाली बहुत जटिल थी और केंद्र और राज्य सरकारों के क़ानूनों के अनुसार चलती है। इस जटिल कर प्रणाली के कारण, माल की लागत भी बढ़ जाती है। इसलिए अप्रत्यक्ष कर प्रणाली को सरल बनाने के उद्देश्य से, भारत सरकार ने जीएसटी के रूप में जाना जाने वाला एक नया सुधारित कर प्रणाली लाया है।

GST क्या है


Gst एक एकल अप्रत्यक्ष कर प्रणाली है जो अन्य सभी अप्रत्यक्ष करों जैसे कि मूल्य वर्धित कर (VAT), उत्पाद शुल्क, मनोरंजन कर, सेवा कर इत्यादि की जगह लेती है, इसे वस्तुओं और सेवाओं की आपूर्ति पर लगाए गए कर के रूप में भी जाना जाता है।

जीएसटी के कार्यान्वयन से पहले, आपूर्ति श्रृंखला के प्रत्येक चरण पर कर लगाया गया था, लेकिन अब सभी चरणों के लिए केवल एक ही कर शुल्क लगाया जायेगा। इस प्रणाली के तहत कर पहले से आधारित गंतव्य (destination based) के बजाय स्रोत (source based) के आधार पर लगाया जाएगा।

नए कानून के अनुसार, कर राजस्व केंद्र और राज्य सरकार दोनों के बीच समान रूप से साझा किया जाएगा।

GST के प्रकार क्या हैं?


भारत में चार प्रकार के GST मॉडल काम कर रहे हैं।

स्टेट गुड एंड सर्विस टैक्स (SGST): जब राज्य के भीतर वस्तुओं और सेवाओं की आपूर्ति की जाती है, तब राज्य कर राजस्व के आधे हिस्से को एसजीएसटी के रूप में जाना जाता है।

सेंट्रल गुड एंड सर्विस टैक्स (CGST): कर राजस्व का एक और आधा हिस्सा केंद्र सरकार के साथ साझा किया जाएगा जब माल और सेवाओं की आपूर्ति पर लगाए गए कर को सीजीएसटी के रूप में जाना जाता है।

इंटीग्रेटेड गुड एंड सर्विस टैक्स (IGST): जब वस्तुओं और सेवाओं की आपूर्ति अंतर राज्यों के बीच की जाती है तो कर राजस्व का पूरा हिस्सा केंद्र सरकार द्वारा वसूला जाएगा।

केंद्र शासित प्रदेश गुड एंड सर्विस टैक्स (UTGST): जब माल और सेवाओं की आपूर्ति केंद्र शासित प्रदेश के भीतर होती है, तो केंद्र शासित प्रदेश को मिलने वाले कर लाभ का हिस्सा यूजीएसटी कहलाता है।

GST के क्या फायदे हैं?


जीएसटी के कई लाभ हैं लेकिन हम कुछ मुख्य बिंदुओं को उजागर करते हैं जिन्हें आप नीचे देख सकते हैं:

  1. जीएसटी कर गंतव्य के बजाय स्रोत के आधार पर लगाया जाएगा यानी कर के कैस्केडिंग प्रभाव को हटा दिया जाएगा।

  2. Gst पंजीकरण के लिए उच्च सीमा।

  3. जीएसटी के तहत कम अनुपालन।

  4. जीएसटी रिटर्न फाइलिंग के लिए आसान ऑनलाइन सुविधाएं।

  5. छोटे व्यवसाय के लिए योजनाएं।

  6. रसद दक्षता में वृद्धि।

GST के तहत टैक्स स्लैब क्या हैं?


जीएसटी में पांच प्रकार के टैक्स स्लैब शामिल हैं, जो विभिन्न श्रेणियों की वस्तुओं और सेवाओं से निपटते हैं यानी 0%, 5%, 12%, 18% और 28%। पेट्रोलियम उत्पादों, मादक और बिजली के लिए जीएसटी के तहत कुछ छूट हैं और यह उत्पाद पुरानी कर प्रणाली के अनुसार शुल्क लेता है।

आप जीएसटी पंजीकरण के लिए आवेदन कैसे कर सकते हैं?


Gst पंजीकरण के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया बहुत आसान और सरल है। बस नीचे वर्णित प्रक्रिया का पालन करें:

चरण 1: पहले GST Registration पोर्टल पर जाएं।

चरण 2: जीएसटी पंजीकरण फॉर्म में सभी विवरण भरें और सुनिश्चित करें कि आप सभी विवरण सही तरीके से भरें।

चरण 3: अपने gst आवेदन के लिए ऑनलाइन भुगतान करें।

चरण 4: हमारे जीएसटी अधिकारियों में से एक आपके आवेदन को संसाधित करेगा और आपके सभी विवरणों को सत्यापित करेगा।

चरण 5: कुछ घंटों के बाद आपको अपने पंजीकृत ईमेल पते पर gst पंजीकरण प्रमाणपत्र प्राप्त होगा।

जीएसटी पंजीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेज


कुछ दस्तावेज हैं जो आपको जीएसटी पंजीकरण के लिए चाहिए। पंजीकरण के समय आपको जिन दस्तावेजों को प्रस्तुत करने की आवश्यकता है, उनकी जाँच के लिए बस हमारे document required page के लिंक पर जाएँ।

Gstregistration.org को क्यों चुनें?


हम professional consultant company हैं जो व्यवसायी को कठिन सरकारी पंजीकरण प्रक्रिया से बचने में मदद करती है, जो पहली बार आने वाले आगंतुकों (users) को आसानी से समझ में नहीं आती है। हम उनके समय और प्रयासों को बचाकर उनकी मदद करते हैं। हमारा पोर्टल परेशानी मुक्त पंजीकरण के लिए single-window registration प्रदान करता है।

यदि आपके कोई और प्रश्न हैं तो आप @gstregistrations.org पर हमारे साथ जुड़ सकते है और जल्द ही हम आपसे संपर्क करेंगे।

Other Related Latest Post
  • Apply For GST Registration
  • What is GST? How does GST work?
  • Online GST Registration
  • GSTIN : Identification Number for GST
  • जीएसटी रिटर्न : क्या है और कैसे भरे
  • GST Registration Online, Process, Eligibility, Fees, Process Guide
  • GSTIN in Hindi : क्या है और इसे कैसे प्राप्त करें


DUE DATES
GSTR-3B(JUL, 2019)
AUG 20TH, 2019
CMP-08(APR-JUN, 2019)
AUG 31ST, 2019
GSTR-5(JUL, 2019)
AUG 20TH, 2019

GSTR-5A(JUL, 2019)
AUG 20TH, 2019
GSTR-6A(JUL, 2019)
AUG 13TH, 2019
GSTR-7(JUL, 2019)
AUG 31ST, 2019

GSTR-8(JUL, 2019)
AUG 10TH, 2019
GSTR-9(2017-2018)
AUG 31ST, 2019
GSTR-9A(2017-2018)
AUG 31ST, 2019

RFD-10
EIGHTEEN MONTHS AFTER END OF THE QUARTER FOR WHICH REFUND IS TO BE CLAIMED

GSTR-1(JUL-SEP, 2019)
OCT 31ST, 2019
GSTR-1(JUL, 2019)
AUG 11TH, 2019


TALK TO US

HOME | ABOUT US | CONTACT US

GST REGISTRATION | CHECK GST RETURN | GET DOCUMENT REQUIRED | GST DUE DATES
GST RATE / HSN / SAC CODE

TERMS & CONDITIONS | PRIVACY POLICY | REFUNDS
facebook logo
0
Guest
Loading...